अमूल अपने दूध की कीमतों पर प्रति लीटर 4 से 5 रुपये की बढ़ोतरी की सोच रहा है। जाने ऐसा क्यों हो रहा है?

अमूल अपने दूध की कीमतों पर प्रति लीटर 4 से 5 रुपये की बढ़ोतरी की सोच रहा है। जाने ऐसा क्यों हो रहा है?

 महंगाई शब्द से ही अब आम जनता को डर लगने लगा है।देश की जानीमानी दूध उत्पादक कंपनी अमूल ने फिर से दूध की कीमतें बढ़ाने का फैसला किया है। अमूल के मेनेजिंग डिरेक्टर आर.एस. सोढ़ी ने एक इंटरव्यू में कहा प्रति लीटर दूध की कीमत में रु 4 से 5 और प्रति लीटर दूध उत्पादों पर रु 8 से 10 तक बढ़ने की संभावनाएं हैं।

  • महंगाई की एक और मार।
  • अमूल डेरी दूध की कीमत प्रति लीटर बढ़ाएगी।
  • अमूल के एम.डी. सोढ़ी का संकेत।

 उन्होंने कहा हैं कि जिन कंपनियों के पास अधिक दूध सप्लाई करने की क्षमता है, उन्हें वर्ष 2020 में अधिक लाभ होगा।

 उन्होंने यह भी कहा कि डेरी कंपनियों ने पिछले तीन वर्षों में दो बार दूध की कीमतों में वृद्धि की है। इस कारण से, डेरी किसानों की आय 2018 की तुलना में 20 से 25 प्रतिशत तक बढ़ी है।

दिसंबर – 2019 में की गई सबसे ज्यादा बढ़ोतरी।

 यहां उल्लेखनीय है कि अमूल ने, दिसंबर – 2019 में उसके अपने दूध की क़ीमत में प्रतिलीटर रु 2 की बढ़ोतरी की थी। इसी तरह मधर डेरी  ने भी अपने विभिन्न प्रकार के दूध की कीमतों में 3 रुपये प्रति लीटर का बढ़ावा किया था। अमूल ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में उसने दो बार दूध की कीमतों में अपना बदलाव किया है। दूध की कीमत में वृद्धि हुई है क्योंकि पशुओं के चारे की कीमतों में 35% तक की वृद्धि हुई है।

बढ़ोतरी का संकेत देते हुए एम.डी।

 वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किए गए 2020 के बजट के बाद आर.एस. सोढ़ी ने कहा कि इस बजट में डेरी क्षेत्र को बढ़ावा देने वाले कई बातें हैं। उन्होंने बताया कि भारत सरकार का लक्ष्य 2025 तक देश में दूध प्रोसेसिंग के आंकड़ों को 53.5 मिलियन मेट्रिक टन से बढ़ाकर 108 मिलियन मेट्रिक टन तक करना है।

40 हज़ार से 50 हज़ार करोड़ रुपये के निवेश की जरूरत है।

 सोढ़ी के अनुसार, इसके लिए 40 हजार रुपये से 50 हजार करोड़ रुपये के निवेश की आवश्यकता होगी। यहां यह उल्लेखनीय है कि सरकार ने दूध सहित कई उत्पादों के वितरण की सुविधा के लिए कृषि उड़ाने (फ्लाइट्स) और किसान रेल शुरू करने की भी घोषणा की है।


This Post Has 2 Comments

  1. Sagar

    Fake news.
    I am employ of Amul management team.
    Don't spread it for cheap publicity…

  2. Sahil

    पहले जान लीजिए बगैर पुख़्ता सबूत हम कुछ नहीं लिखते।

Leave a Reply