क्या आप भी महीने में 30 हजार रुपये कमाना चाहते हैं?  सरकार की इस स्टार्टअप पर 2.50 लाख तक की सहायता।

क्या आप भी महीने में 30 हजार रुपये कमाना चाहते हैं? सरकार की इस स्टार्टअप पर 2.50 लाख तक की सहायता।

 केंद्र सरकार जन औषधि केंद्रों की संख्या बढ़ाने जा रही है।  2020 के अंत तक, देश के सभी हिस्सों में एक जन औषधि केंद्र खोला जाएगा, जहां ग्रामीण स्तर पर लोगों को सस्ती और गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाएँ मिल सकेंगी। सरकार की यह घोषणा उन लोगों के लिए है जो इस क्षेत्र में व्यवसाय करना चाहते हैं। देश में अब तक लगभग 5,000 जन औषधि केंद्र खोले गए हैं। तो आप भी जन औषधि केंद्र खोलकर लगभग 30 हजार महीने कमा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि आप एक जन औषधि केंद्र कैसे खोल सकते हैं।

जन औषधि केंद्र से जुड़ी कुछ बाते, इस योजना का लाभ कौन उठा सकता है?

  •  पहली श्रेणी में कोई भी बेरोजगार फार्मासिस्ट, डॉक्टर, पंजीकृत मेडिकल प्रैक्टिशनर यह स्टोर खोल सकता है।
  •  दूसरी श्रेणी में ट्रस्टों, NGO, निजी अस्पतालों, समाज और स्वयं सहायता समूहों को स्टोर खोलना मौक़ा मिलेगा। 
  •  तीसरी श्रेणी में राज्य सरकार द्वारा नामित एजेंसी यह स्टोर खोल सकती हैं।
  •  स्टोर खोलने के लिए 120 वर्गफुट क्षेत्र में स्टोर होना आवश्यक है।

सरकार से 2.5 लाख की सहायता मिलेगी।

  •   जन औषधि केंद्र खोलने की कुल लागत 2.5 लाख रुपये तक होगी। और जन औषधि केंद्र खोलने वाले को 2.5 लाख रुपये की सरकारी सहायता दी जाएगी।
  •   जन औषधि केंद्र खोलने वालों को सरकार द्वारा 650 से अधिक जेनेरिक दवाएँ प्रदान की जाएंगी।
  •   केंद्र खोलने के लिए एप्लिकेशन फ़ि और प्रोसेसिंग फ़ि भी समाप्त कर दि जाएगी।

 सरकार से 2.5 लाख रुपये की मदद कैसे मिलेगी?

  •  जन औषधि केंद्र शुरू करने से पहले आपको  पहले 1 लाख रुपये की दवाईया ख़रीदनी होंगी। बाद में सरकार इसकी भरपाई करेगी।
  •  दुकान खोलने, डेस्क बनाने, फ्रिज खरीदने में सरकार आपको 1 लाख रुपये तक की मदद करेगी।
  •  जेनरिक सेंटर खोलने के लिए सरकार आपको कंप्यूटर जैसे सेटअप पर 50,000 रुपये तक की धनराशि भी वापस करेगी।

इस तरह आप आय अर्जित कर सकेंगे।

  •  जो भी दवा आप महीने में अपने केंद्र से बेचते हैं, उन दवाओं का 20% लागत आपको कमीशन के रूप में मिलेगा, ट्रेड मार्जिन के अलावा, सरकार आपको मासिक सेल पर 10% प्रोत्साहन देगी, जो आपके बैंक खाते में आएगा।
  •  इस तरह, दुकानदार को ट्रेड मार्जिन के अलावा प्रोत्साहन के रूप में दोहरा लाभ होगा। यानि अगर दुकानदार 1 महीने में 1 लाख रुपये तक की दवाइयां बेचता है, तो वे 25 से 30 हजार रुपये मासिक कमाएंगे।
  •  दवाइयों की बिक्री पर प्रति माह प्रोत्साहन 10% है। हालांकि, उसकी सीमा अधिकतम 10,000 रुपये रखी गई है।

 इस तरह से अप्लाई करें।

  •  एक जन औषधि केंद्र खोलने के लिए, आपके पास जन औषधि केंद्र के नाम से रिटेल ड्रग्स सेल करना का लाइसेंस होना चाहिए।
  •  स्टोर खोलने की इच्छा रखने वाले व्यक्ति या एजेंसियां ​​https://janaushadhi.gov.in/ पर जाकर फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं।
  •  आवेदन को ब्यूरो ऑफ फार्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया के पते पर जनरल मैनेजर के नाम से भेजना होगा।
  •  जन औषधि की वेबसाइट पर ब्यूरो ऑफ फार्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया के बारे में अधिक जानकारी उपलब्ध है।

Leave a Reply